Friday, December 18, 2015

आलस त्यागो




  सपने तो देख लेते हैं हम जागती आंखो से 
बस उन्हे पूरा करने में हिम्मत करने की जगह
आंखे बंद कर लेते हैं और
बंद आंखो में उन्हे पूरा करके मुस्कुरा देते हैं......रमा

आलस त्यागो... सुप्रभात

1 comment:

  1. बिलकुल सत्य कहा है...

    ReplyDelete